- Advertisement -

७१वें गणतंत्र पर्व का राज्यस्तरीय समारोह : राजकोट

गोंडल में आयोजित महिला सम्मेलन में सीएम की प्रेरक उपस्थिति : राजकोट जिले की ६८८२ विधवा महिलाओं का एक साथ डाकघर बचत खाता खोलने का रिकार्ड

मुख्यमंत्री श्री विजय रूपाणी ने कहा कि महिलाओं के आत्मसम्मान, गौरव और उत्कर्ष के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। ७१वें गणतंत्र पर्व के राज्यस्तरीय समारोह के तहत शनिवार को राजकोट जिले के गोंडल स्थित बीएपीएस मंदिर में महिला एवं बाल विकास विभाग तथा जिला प्रशासन की ओर से आयोजित महिला सम्मेलन में उन्होंने यह बात कही।

71ve Ganatantr Parv Ka Rajyastariy Samaroh Rajkot 05

- Advertisement -

- Advertisement -

75

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

७१वें गणतंत्र पर्व का राज्यस्तरीय समारोह : राजकोट

मुख्यमंत्री श्री विजय रूपाणी ने कहा कि महिलाओं के आत्मसम्मान, गौरव और उत्कर्ष के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। ७१वें गणतंत्र पर्व के राज्यस्तरीय समारोह के तहत शनिवार को राजकोट जिले के गोंडल स्थित बीएपीएस मंदिर में महिला एवं बाल विकास विभाग तथा जिला प्रशासन की ओर से आयोजित महिला सम्मेलन में उन्होंने यह बात कही।

71ve Ganatantr Parv Ka Rajyastariy Samaroh Rajkot 05
71ve Ganatantr Parv Ka Rajyastariy Samaroh Rajkot 05
  • गोंडल में आयोजित महिला सम्मेलन में सीएम की प्रेरक उपस्थितिः राजकोट जिले की ६८८२ विधवा महिलाओं का एक साथ डाकघर बचत खाता खोलने का रिकार्ड
  • महिलाओं के आत्मसम्मान और उत्कर्ष के लिए कटिबद्ध है सरकारः सीएम
  • ‘राज्य में ३० लाख बहनों के स्वास्थ्य की चिंता कर उज्ज्वला योजना का लाभ पहुंचाया’
  • सीएम ने लॉन्च किया व्हाली दीकरी योजना का लोगो
71ve Ganatantr Parv Ka Rajyastariy Samaroh Rajkot 01
71ve Ganatantr Parv Ka Rajyastariy Samaroh Rajkot 01

श्री रूपाणी ने गुजरात में ३० लाख गरीब बहनों को उज्जवला योजना का लाभ पहुंचाकर उनके स्वास्थ्य की चिंता करने का जिक्र करते हुए कहा कि गुजरात में बेटियों की हमने कोख से लेकर विवाह तक की चिंता की है। गुजरात में बेटियां सुरक्षित रहें और उनके स्वप्न साकार हों उस दिशा में हम कार्यरत हैं। उन्होंने कहा कि विधवा बहनों को गंगास्वरूप नाम देकर उन्हें जीवन यापन के लिए दूसरों पर आश्रित न रहना पड़े और घर चलाने के लिए सहारा मिले इसके लिए विधवा पेंशन सहायता में बढ़ोतरी करने के साथ ही संतान के वयस्क होने पर भी पेंशन जारी रखने का निर्णय कर सभी विधवा बहनों को लाभ दिया है।

71ve Ganatantr Parv Ka Rajyastariy Samaroh Rajkot 02
71ve Ganatantr Parv Ka Rajyastariy Samaroh Rajkot 02

उन्होंने कहा कि राजकोट जिले में पहले ११,७०० गंगास्वरूप बहनों को इस योजना का लाभ मिलता था। अब नये नियम के लागू होने से और ९,००० महिलाओं को पेंशन सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि गुजरात के सभी जिलों में महिलाओं का सर्वे कैम्प आयोजित कर इस योजना में पात्र महिलाओं का समावेश सुनिश्चित करने का निर्देश कलक्टरों को दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि छोटी बच्चियों पर अत्याचार करने वाले को फांसी की सजा होनी चाहिए। झपटमारों को सात वर्ष की कैद, महिलाओं के उत्पीड़न पर तत्काल सहायता और महिलाओं को स्वावलंबी बनाने के लिए ऋण सहायता तथा बेटियों को अभ्यास के लिए हर तरह की मदद की योजनाएं हमारी सरकार ने क्रियान्वित की हैं।

Related Posts
1 of 483

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश में स्वच्छता अभियान को मिली सफलता का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि गुजरात में ४० लाख शौचालय बने हैं और जरूरत के अनुसार ४ लाख नये शौचालयों के निर्माण की मंजूरी राज्य सरकार ने दी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्षी दलों की वोट बैंक और तुष्टिकरण की राजनीति के मुकाबले हमारी सरकार सबका साथ, सबका विकास के मंत्र में भरोसा करती है। सभी वर्गों के कल्याण के साथ ही सरकार के संसाधनों पर गरीबों का पहला अधिकार है।

71ve Ganatantr Parv Ka Rajyastariy Samaroh Rajkot 03
71ve Ganatantr Parv Ka Rajyastariy Samaroh Rajkot 03

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने व्हाली दीकरी योजना का लोगो लॉन्च किया। राजकोट में जिला प्रशासन और महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा चलाए गए अभियान के तहत एक साथ ६,८८२ विधवा महिलाओं का गंगास्वरूप योजना की पेंशन सहायता के लिए डाकघर में बचत खाता खोला गया। इंडिया बुक में दर्ज इस रिकार्ड का प्रमाण पत्र संस्था की प्रतिनिधि नीलिमा छाजेड़ ने मुख्यमंत्री की उपस्थिति में कलक्टर रेम्या मोहन और महिला एवं बाल विकास अधिकारी जनकसिंह गोहिल को दिया। इस मौके पर गुजरात सर्कल के चीफ पोस्टमास्टर जनरल अशोक कुमार भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने गंगास्वरूप इन विधवा महिलाओं को डाकघर बचत खाते की पासबुक वितरीत करने के अलावा श्रेष्ठ आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और अन्य योजनाओं के महिला लाभार्थियों को सहायता और प्रमाण पत्रों का वितरण किया। कार्यक्रम में लगभग ८,००० महिलाएं उपस्थित थीं। इस मौके पर राजकोट सखी वन स्टॉप सेंटर को आईएसओ प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। कार्यक्रम से पूर्व मुख्यमंत्री ने अक्षर डेरी का दर्शन कर बीएपीएस मंदिर के कोठारी स्वामी दिव्य पुरुष दास स्वामी का आशीर्वचन प्राप्त किया। जिला कलक्टर रेम्या मोहन ने स्वागत भाषण में योजना की जानकारी दी जबकि जिला विकास अधिकारी अनिल राणावसिया ने आभार व्यक्त किया।

71ve Ganatantr Parv Ka Rajyastariy Samaroh Rajkot 04
71ve Ganatantr Parv Ka Rajyastariy Samaroh Rajkot 04

कार्यक्रम में सर्वश्री राजकोट जिला प्रभारी मंत्री भूपेन्द्रसिंह चूड़ास्मा, जलापूर्ति मंत्री कुंवरजीभाई बावळिया, विधायक गीताबा जाडेजा, पूर्व विधायक जयराजसिंह जाडेजा, जिला भाजपा अध्यक्ष डीके सखिया, जयंतीभाई ढोल, मार्केटिंग यार्ड के चेयरमैन गोपालभाई शिंगाळा, जिला पंचायत अध्यक्ष अल्पाबेन खाटरिया, पूर्व मंत्री जसुमतीबेन कोराट, महिला एवं बाल विकास विभाग की सचिव मनीषा चंद्रा, पुलिस उप महानिरीक्षक संदीप कुमार, पुलिस अधीक्षक बलराम मीणा, प्रोग्राम अधिकारी वत्सला दवे सहित कई अधिकारी, पदाधिकारी और बड़ी संख्या में महिलाएं उपस्थित थीं।

दोस्तों, अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगे तो कृपया नीचे दिए गए बटन लाइक (Like), शेयर (Share) और फॉलो (Follow) करें और इस पोस्ट को अपने दोस्तों, परिवार और अपने साथ काम करने वाले सहकर्मियों के साथ साझा करें, और अधिक स्वास्थ्य से संबंधित समाचारों और लेखों के अपडेट्स पाने के लिए हमारे पेज पर आते रहे।

Source By: gujaratinformation.net

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

loading...

- Advertisement -

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More