गुजरात सीएम के रूस दौरे का दूसरा दिन

सीएम के रूस दौरे का दूसरा दिनः ‘इंडिया-रशिया कोऑपरेशन इन द रशियन फार ईस्ट’ सेमिनार में गुजरात के विकास विजन की प्रभावी प्रस्तुति

मुख्यमंत्री श्री विजय रूपाणी ने कहा कि रूस और गुजरात के बीच के व्यापारिक संबंधों को व्यापक बनाने के लिए गुजरात और रूस के सुदूर पूर्व के प्रांत मिलकर नए अवसर पैदा करेंगे। रूस दौरे के दूसरे दिन व्लादिवोस्तोक शहर में आयोजित ‘इंडिया-रशिया कोऑपरेशन इन द रशियन फार ईस्ट’ सेमिनार में उन्होंने यह बात कही।

Gujarat Cm 2nd Day Of Russia Visit 03
272

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

गुजरात सीएम के रूस दौरे का दूसरा दिन

Related Posts
1 of 297

मुख्यमंत्री श्री विजय रूपाणी ने कहा कि रूस और गुजरात के बीच के व्यापारिक संबंधों को व्यापक बनाने के लिए गुजरात और रूस के सुदूर पूर्व के प्रांत मिलकर नए अवसर पैदा करेंगे। रूस दौरे के दूसरे दिन व्लादिवोस्तोक शहर में आयोजित ‘इंडिया-रशिया कोऑपरेशन इन द रशियन फार ईस्ट’ सेमिनार में उन्होंने यह बात कही।

  • सीएम के रूस दौरे का दूसरा दिनः ‘इंडिया-रशिया कोऑपरेशन इन द रशियन फार ईस्ट’ सेमिनार में गुजरात के विकास विजन की प्रभावी प्रस्तुति
  • गुजरात और रूस के सुदूर पूर्व के प्रांत मिलकर पैदा करेंगे व्यापारिक संबंधों के नए अवसरः मुख्यमंत्री
  • ‘हीरा उद्योग क्षेत्र में रशिया-गुजरात की भागीदारी अहम और उपयुक्त साबित होगी’
Gujarat Cm 2nd Day Of Russia Visit 04
Gujarat Cm 2nd Day Of Russia Visit 04

श्री रूपाणी ने गुजरात के कारोबारी शिष्टमंडल के साथ इस सेमिनार में शिरकत की। रूसी संघ के उप प्रधानमंत्री और सुदूर पूर्वी संघीय जिले के राष्ट्रपति के पूर्णाधिकारी दूत श्री यूरी ट्रूटनेव भी इस अवसर पर मौजूद थे। उल्लेखनीय है कि श्री विजय रूपाणी गुजरात के २८ प्रतिनिधियों के साथ केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री श्री पीयूष गोयल के नेतृत्व में रूस के दौरे पर गए भारतीय शिष्टमंडल में शामिल हैं।

मुख्यमंत्री ने हीरा उद्योग क्षेत्र में रशिया के साथ गुजरात के व्यापार-उद्योग की व्यापक संभावनाओं का विशेष रूप से जिक्र करते हुए कहा कि दुनिया के सबसे बड़े हीरों के भंडार में से एक रूस के पास है। विश्व का एक तिहाई रफ हीरा रूस में उपलब्ध है। वहीं, भारत भी रफ हीरों की तराशी और पॉलिश का दुनिया का सबसे बड़ा केंद्र है। गुजरात में दुनिया के ८० फीसदों हीरों की प्रोसेसिंग होती है। अकेला भारत ९५ फीसदी प्रोसेस्ड हीरों का पूरी दुनिया में निर्यात करता है।

उन्होंने कहा कि सूरत में विश्व की सबसे बड़ी डायमंड कटिंग और पॉलिशिंग इंडस्ट्री है, ऐसे में हीरा उद्योग के क्षेत्र में रशिया-गुजरात की यह भागीदारी अहम और उपयुक्त साबित होगी। श्री रूपाणी ने कहा कि भारत और रूस की मैत्री काफी पुरानी है। पिछले सात दशकों से रूस के साथ भारत का भावनात्मक नाता रहा है।

Gujarat Cm 2nd Day Of Russia Visit 03
Gujarat Cm 2nd Day Of Russia Visit 03
Also You like to read
1 of 110

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की हाल की रूस यात्रा और रूसी राष्ट्रपति श्री ब्लादिमीर पुतिन की भारत यात्रा के फलस्वरूप दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों को एक नया मिलेगा, जिसमें गुजरात अहम भूमिका अदा करेगा। मुख्यमंत्री ने गुजरात के साथ संबंधों को मजबूती देने के रूस के कदमों की सराहना करते हुए कहा कि वाइब्रेंट समिट-२०१९ और २०१७ के संस्करणों में रूस के ६० से अधिक सदस्यों के प्रतिनिधिमंडल ने शिरकत की थी।

उन्होंने बताया कि मौजूदा वर्ष में आयोजित वाइब्रेंट समिट में ऊर्जा क्षेत्र की रूस की अग्रणी कंपनी रोसनेफ्ट की अगुवाई वाली कंपनी नायरा एनर्जी ने भारत में सबसे बड़े विदेशी निवेश की घोषणा गुजरात की वाडीनार रिफाइनरी संयंत्र में सिंगल प्रोजेक्ट के लिए की थी। श्री रूपाणी ने कहा कि रूस के सुदूर पूर्वी क्षेत्र में मशीन इंडस्ट्रीज, ऑयल और गैस, मेटल और माइनिंग, हीरा, पर्यटन और परिवहन तथा लॉजिस्टिक सेवा जैसे क्षेत्र भारत और गुजरात के लिए रुचि के क्षेत्र हैं।

मुख्यमंत्री ने रूस के इस क्षेत्र के साथ गुजरात के हीरा उद्योग क्षेत्र सहित विभिन्न क्षेत्रों की सहभागिता के लिए संयुक्त निवेश, उत्पादन, प्रसंस्करण और कुशल श्रम के क्षेत्र में साथ मिलकर कार्यरत होने की प्रबल अपेक्षा व्यक्त की। उन्होंने गुजरात और रूस के सुदूर पूर्व के क्षेत्र के बीच व्यापारिक संबंधों को प्रोत्साहित करने तथा गुजरात एवं व्लादिवोस्तोक में एक प्रोसेसिंग फैसेलिटी स्थापित करने की भी हिमायत की।

Gujarat Cm 2nd Day Of Russia Visit 02
Gujarat Cm 2nd Day Of Russia Visit 02

मुख्यमंत्री ने कहा कि गोल्ड और डायमंड माइनिंग, मेटल साइंस, नेचुरल रिसोर्सेज के उपयोग के लिए अद्यतन टेक्नोलॉजी और आधुनिक उपकरणों के निर्माण क्षेत्र में रूस का अनुभव भारत और गुजरात की कंपनियों के लिए लाभदायी साबित होगा। श्री रूपाणी ने रूसी शिष्टमंडल के समक्ष गुजरात की रणनीति का उल्लेख करते हुए कहा कि गुजरात भारत की जीडीपी में ८ फीसदी और इंडस्ट्रीयल आउटपुट में १७ फीसदी सहित देश के कुल निर्यात में २० फीसदी से अधिक का योगदान देता है।

उन्होंने कहा कि केमिकल, पेट्रोकेमिकल, टेक्सटाइल्स, जेम्स एंड ज्वैलरी और सिरामिक्स जैसे पारंपरिक क्षेत्र में अग्रणी गुजरात पिछले एक दशक से १० फीसदी से अधिक की आर्थिक वृद्धि दर के साथ देश के शीर्ष राज्यों में शुमार है। देश के सबसे लंबे समुद्र तट और ४० से अधिक बंदरगाह वाले गुजरात के ‘गेट वे ऑफ इंडिया’ बनने के आलोक में उन्होंने कहा कि दिल्ली-मुंबई समर्पित औद्योगिक गलियारे के निर्माण से गुजरात की औद्योगिक-आर्थिक प्रगति नए शिखर पर पहुंचेगी।

उन्होंने कहा कि गुजरातियों की उद्यमिता और व्यापार कुशलता के चलते अफ्रीकी देशों, मध्य पूर्व, यूरोप या अमेरिका सभी जगहों पर गुजरातियों ने सम्मान अर्जित किया है। सेमिनार में उत्तर प्रदेश और हरियाणा के मुख्यमंत्रियों समेत भारतीय प्रतिनिधिमंडल के सदस्य और रूसी डेलीगेट भी उपस्थित थे।

Gujarat Cm 2nd Day Of Russia Visit 01
Gujarat Cm 2nd Day Of Russia Visit 01

दोस्तों, अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगे तो कृपया नीचे दिए गए बटन लाइक (Like), शेयर (Share) और फॉलो (Follow) करें और इस पोस्ट को अपने दोस्तों, परिवार और अपने साथ काम करने वाले सहकर्मियों के साथ साझा करें, और अधिक स्वास्थ्य से संबंधित समाचारों और लेखों के अपडेट्स पाने के लिए हमारे पेज पर आते रहे।

Read This Article In Your Language

ENGLISH HINDI GUJARATI

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More