गुजरात में वर्षा की स्थिति पर मुख्यमंत्री ने की उच्च स्तरीय बैठक

राज्य के 17 डेम 100 फीसदी भर गए और 42 डेम 70 फीसदी से ज्यादा भरे

मुख्यमंत्री श्री विजय रूपाणी ने आज गुजरात में जारी वर्षा की स्थिति को लेकर स्टेट इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर में उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक आयोजित कर परामर्श किया। उन्होंने राज्य में सार्वत्रिक वर्षा को लेकर आयोजित इस बैठक में जिला प्रशासनों के अधिकारियों से फोन पर भी जानकारी हासिल की।

Gujaraat Mein Varsha Kee Sthiti Par Mukhya Mantri Ne Kee Uchch Stareey Baithak 01
74

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

गुजरात में वर्षा की स्थिति पर मुख्यमंत्री ने की उच्च स्तरीय बैठक

Related Posts
1 of 302

राज्य के 17 डेम 100 फीसदी भर गए और 42 डेम 70 फीसदी से ज्यादा भरे

मुख्यमंत्री श्री विजय रूपाणी ने आज गुजरात में जारी वर्षा की स्थिति को लेकर स्टेट इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर में उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक आयोजित कर परामर्श किया। उन्होंने राज्य में सार्वत्रिक वर्षा को लेकर आयोजित इस बैठक में जिला प्रशासनों के अधिकारियों से फोन पर भी जानकारी हासिल की।

Gujaraat Mein Varsha Kee Sthiti Par Mukhya Mantri Ne Kee Uchch Stareey Baithak 04
Gujaraat Mein Varsha Kee Sthiti Par Mukhya Mantri Ne Kee Uchch Stareey Baithak 04
  • 250 मिमी. से कम वर्षा हुई हो, ऐसी अब मात्र 15 तहसीलें
  • गत वर्ष 10 अगस्त को 459.91 मिमी. वर्षा हुई थी, इस वर्ष 634 मिमी. हुई
  • राज्य में 18 एनडीआरएफ, 11 एसडीआरएफ की टीमों के साथ ही आर्मी और एयरफोर्स की विभिन्न टीमें भी बचाव एवं राहत कार्यों में तैनात

उधर, ध्रांगधा के वावडी गांव में पानी के ट्रेक्टर के साथ फंसे लोगों और बाम्भला की एक महिला को हैलिकॉप्टर से एयरलिफ्ट कर उसका सफल रेस्क्यु ऑपरेशन किया गया।

Gujaraat Mein Varsha Kee Sthiti Par Mukhya Mantri Ne Kee Uchch Stareey Baithak 01
Gujaraat Mein Varsha Kee Sthiti Par Mukhya Mantri Ne Kee Uchch Stareey Baithak 01
Also You like to read
1 of 18

मीडिया से बातचीत करते हुए श्री रूपाणी ने कहा कि राज्य में पिछले 24 घंटों के दौरान उकाई और सरदार सरोवर नर्मदा डेम भर गए हैं। राज्य में 17 डेम 100 फीसदी भर गए हैं और 42 डेम 70 फीसदी से ज्यादा भर चुके हैं। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष वर्षा ऋतु पूर्ण होने के बाद राज्य के जलाशयों में 56 फीसदी पानी था जबकि इस वर्ष अच्छे मानसून से अब तक 60 फीसदी जल संग्रह हो चुका है।

उन्होंने कहा कि इस वर्षा के चलते राज्य में 6000 से ज्यादा नागरिकों को सुरक्षित स्थलों पर पहुंचाया गया है और अब तक वर्षा जनित दुर्घटनाओं से 11 मानव मृत्यु हो चुकी है। समग्र राज्य में 250 मिमी. से कम वर्षा हुई हो, ऐसी मात्र 15 तहसीलें ही रही हैं। शेष सभी तहसीलों में 250 मिमी. पानी बरसा है। राज्य में गत वर्ष अगस्त तक 459.91 मिमी. वर्षा हुई थी और उसकी तुलना में इस वर्ष 634.82 मिमी. वर्षा हुई है।

Gujaraat Mein Varsha Kee Sthiti Par Mukhya Mantri Ne Kee Uchch Stareey Baithak 02
Gujaraat Mein Varsha Kee Sthiti Par Mukhya Mantri Ne Kee Uchch Stareey Baithak 02

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में 18 एनडीआरएफ और 11 एसडीआरएफ की टीमों के साथ ही आर्मी-एयरफोर्स बरसाती पानी से राहत- बचाव के लिए तैनात हैं। मौसम विभाग द्वारा सौराष्ट्र और कच्छ में आगामी 24 घंटे में होने वाली वर्षा की भविष्यवाणी के चलते इन जिलों के साथ ही सभी जिलों के कलक्टर्स को सतर्कता बरतने के आदेश दिए हैं।

श्री रूपाणी ने जलाशयों में आने वाले पानी से लोगों को तकलीफ ना पड़े, इस प्रकार से पानी छोड़ने के निर्देश दिए। साथ ही, राजकोट और जामनगर की परिस्थिति को देखते हुए वहां के कलक्टर्स से बातचीत कर स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने राजकोट शहर और जिले में हुई अतिवृष्टि के बारे में कलक्टर के साथ ही मनपा आयुक्त से भी बातचीत की।

Gujaraat Mein Varsha Kee Sthiti Par Mukhya Mantri Ne Kee Uchch Stareey Baithak 03
Gujaraat Mein Varsha Kee Sthiti Par Mukhya Mantri Ne Kee Uchch Stareey Baithak 03

राजकोट के निचले इलाकों में पानी भरा है, ऐसे स्थलों पर बचाव एवं राहत कार्यों के लिए वडोदरा से आर्मी की दो टुकड़ियां साधनों से लैस करके वहां भेजी गई है। जामनगर और नवसारी से एनडीआरएफ की टीम को भी राजकोट भेजने के आदेश दिए गए हैं।

इस बैठक में मुख्य सचिव डॉ. जे.एन. सिंह, मुख्यमंत्री के अग्र सचिव के. कैलाशनाथन, राजस्व के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री पंकज कुमार सहित कई वरिष्ठ अधिकारी शामिल थे।

મિત્રો, જો તમને આ પોસ્ટ ગમે છે, તો કૃપા કરીને નીચે આપેલ બટન લાઇક, શેર અને ફોલો બટનને દબાવો અને તમારા મિત્રો, પરિવાર તથા તમારી સાથે કામ કરતાં સહકર્મચારીઓ સાથે આ પોસ્ટ શેર કરો અને વધુ આરોગ્ય સંબંધિત સમાચાર, લેખો અને અપડેટ્સ માટે અમારા પેજની મુલાકાત લો તેમજ ફોલો કરો.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More