चिकनी त्वचा के लिए पांच तत्व- डॉक्टर प्रियंका रेड्डी

87

चिकनी त्वचा के लिए पांच तत्व- डॉक्टर प्रियंका रेड्डी

 

ऐसे में जब हम सब महामारी के दौरान सुरक्षित रहने के लिए ज्यादातर समय घरों में ही रह रहे हैं, हमारे लिए हमारी त्वचा के साथ–साथ अपने स्वास्थ्य एवं तंदुरुस्ती का ध्यान रखना बहुत जरूरी हो जाता है। घर से काम करते हुए और बहुत सीमित सामाजिक मेल–जोल के कारण हम हमारी स्किनकेयर (त्वचा की देखभाल) के रूटीन को लेकर लापरवाह होने लगे हैं। लेकिन घर पर अधिक समय बिताने के कारण हमें ऐसे बेहद साधारण घरेलू नुस्खे आज़माने का भी मौका मिला है जिनका त्वचा पर चमत्कारी प्रभाव पड़ता है। आपकी रसोई में कई तरह चीज़ें होती हैं जो आपकी त्वचा के स्वास्थ्य और दिखावट को कुछ ही दिनों में अच्छा बनाने में मदद क सकती हैं।

 

शहद

Also Read This

शहद में प्राकृतिक एंटीसेप्टिक, एंटीबैक्टीरियल और एंटी–इंफ्लामेटरी गुण होते हैं और इसका यही गुण कोमल त्वचा के लिए इसे बहुत अच्छा इंग्रेडिएंट बनाता है। कच्चे शहद का प्रयोग कोमल, दमकती और चमकती त्वचा पाने के लिए मॉइस्चराइजिंग फेस मास्क के रूप में किया जा सकता है। इसमें मौजूद प्राकृतिक नमी रूखेपन को दूर करने में मदद कर सकती है। शहद कील–मुँहासों और घावों पर भी बहुत असरदार तरीके से काम कर सकता है और त्वचा को कोमल एवं चमकीला बनाता है।

 

एलोवेरा (घृतकुमारी)

क्या है जो एलोवेरा को सबसे अच्छा स्किनकेयर इंग्रीडिएंट बनाता है? आपकी त्वचा रूखी हो, तैलीय या फिर सेंसिटिव– एलोवेरा एक ऐसा इंग्रीडिएंट है जो सभी प्रकार की त्वचा के लिए अच्छा रहता है। एलोवेरा जेल में विटामिन्स, एंटीऑक्सीडेंट्स, मिनरल्स और एमीनो एसिड्स होते हैं जो त्वचा की कई प्रकार की समस्याओं जैसे सनबर्न्स (तेज धूप में झुलसी त्वचा), दाने और चकत्ते को दूर करने में मदद करते हैं। अपने एंटीबैक्टीरियल एवं एंटी–इंफ्लामेटरी गुणों के साथ एलोवेरा कील–मुँहासों को दूर रखने में मदद कर सकता है।

 

टमाटर

टमाटर में त्वचा को स्वस्थ बनाने वाले पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। इसमें पाया जाने वाला विटामिन सी कोलाजेन बनाने में मदद करता है और त्वचा में कसाव बनाए रखता है, विटामिन– ए काले धब्बों को दूर करता है और रूखी– बेजान त्वचा को दमकती त्वचा में बदल देता है। पोटैशियम और मैग्नीशियम त्वचा को मॉइस्चराइज़ करते हैं और उसे ताज़गी से भरा चमचमाता चमक प्रदान करते हैं।

 

पपीता

त्वचा की प्राकृतिक चमक वापस लाने में पपीता वाकई प्राकृतिक घरेलू उपचार के रूप में बहुत अच्छा काम करता है। पपैन, एक एक्टिव एंजाइम है जो पपीते में प्राकृतिक रूप से पाया जाता है। इसमें एंटीबैक्टीरियल और एंटी फंगल गुण होते हैं। यह मृत त्वचा को निकालने, त्वचा को नमी देने और त्वचा की रंगत को बेहतर बनाने में असरदार तरीके से काम करता है।

 

खीरा

खीरे में त्वचा के लिए भरपूर मात्रा में अच्छे विटामिन्स और पोषक तत्व होते हैं जो त्वचा से जुड़ी समस्याओं जैसे सूखेपन, बढ़ती उम्र एवं सूजन को ठीक करने के लिए बेहतरीन इंग्रीडिएंट बनाते हैं। खीरे में उपलब्ध एंटीऑक्सिडेंट्स त्वचा को साफ और उज्जवल बनाते हैं। ये कोलाजेन उत्पादन को बढ़ाने में भी मदद करते हैं जो हमें समय से पहले बूढ़े होने की निशानियों से बचाते हैं।

 

 

त्वचा को कोमल बनाए रखने में इन इंग्रीडिएंट्स का असरदार तरीके से उपयोग कैसे किया जा सकता है, इसके बारे में यहाँ जाने–

  • शहद और टमाटर का पेस्ट– झुर्रियों और बारीक रेखाओं को दूर करने के लिए आधे कप टमाटर के प्यूरी में 1 बड़ा चम्मच शुद्ध शहद मिलाएं और साफ त्वचा पर लगा लें। 15 मिनट तक लगा रहने दें और फिर ठंडे पानी से साफ कर लें।
  • पपीता और शहद का मास्क– रूखेपन को दूर करने एवं त्वचा को कोमल और सुकुमार बनाए रखने के लिए। आधे कप मसले हुए पपीते में 2 बड़े चम्मच दूध और 1 बड़े चम्मच शहद मिलाएं। अच्छा पेस्ट बना लें और इसे अपने चेहरे पर लगा लें। 15 मिनट तक लगा रहने दें और फिर ठंडे पानी से साफ कर लें।
  • एलोवेरा और खीरा– नमी को बढ़ाने एवं दमकती त्वचा पाने के लिए। बिना छिले हुए एक खीरे को पीस लें एवं उसका जूस निकाल लें। खीरे के इस रस में 2 बड़े चम्मच एलोवेरा का शुद्ध जेल मिलाएं और इसका एक चिकना पेस्ट बना लें। चेहरे पर मास्क लगाएं और धीरे– धीरे मसाज करें। 15 मिनट तक लगा रहने दें और फिर ठंडे पानी से साफ कर लें।

 

यदि आपके त्वचा की समस्या बनी हुई है और घरेलू नुस्खे काम नहीं कर रहे तो अच्छा होगा कि आप किसी त्वचा विशेषज्ञ से मिलें और अपनी त्वचा के अनुसार उपचार कराएं।

 

लेखिका – डॉक्टर प्रियंका रेड्डी (Dr.Priyanka Reddy)-त्वचा विशेषज्ञ, कॉस्मेटोलॉजिस्ट, ट्राइकोलॉजिस्ट, डीएनए (DNA) स्किन क्लीनिक, बैंगलोर के संस्थापक।

(This News has not been edited by the Life Care team, it is published directly from the agency feed.)

Legal Disclaimer

LifeCareNews.in provides the information “as is” without warranty of any kind. We do not accept any responsibility or liability for the accuracy, content, images, videos, licenses, completeness, legality, or reliability of the information contained in this article. If you have any complaints or copyright issues related to this article, kindly contact the provider above.

 

Also Read This

Comments