मोबाइल टू स्पोर्ट्स के तहत युवाओं को घर पर ही खेल विशेषज्ञ प्रशिक्षण मिलेगा

56

खेलकूद के क्षेत्र में गुजरात की तीन अभिनव पहल की सीएम ने की ई-लॉन्चिंग

उदीयमान खिलाड़ियों के रोजगार की चिंता राज्य सरकार करेगीः मुख्यमंत्री

  • गुजरात में विकसित की गहन प्रशिक्षण की व्यवस्था ताकि खिलाड़ी कर सकें नाम रोशन
  • ‘मोबाइल टू स्पोर्ट्स’ के तहत युवा शक्ति को घर बैठे मिलेगा खेलकूद विशेषज्ञों से प्रशिक्षण
  • खिलाड़ियों को सरकारी सेवाओं सहित अन्य नौकरियों के मार्गदर्शन के लिए रोजगार मार्गदर्शन केंद्र की शुरुआत
  • ग्रामीण खेलकूद विकास योजना के तहत 500 गांवों में खेल के मैदान विकसित किए जाएंगे

मुख्यमंत्री श्री विजय रूपाणी ने राज्य के प्रतिभावान व उदीयमान खिलाड़ियों को राज्य सरकार की ओर से गहन प्रशिक्षण की सुविधा मुहैया कराने और उनके रोजगार की चिंता करने की प्रतिबद्धता व्यक्त की है ताकि ये खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गुजरात का नाम रोशन कर सकें।

मुख्यमंत्री ने गुरुवार को गांधीनगर से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राज्य के खेलकूद, युवा और सांस्कृतिक गतिविधि विभाग के तत्वावधान में ‘मोबाइल टू स्पोर्ट्स’, खिलाड़ियों के लिए रोजगार मार्गदर्शन केंद्र और ग्रामीण खेलकूद विकास योजना के तहत 500 गांवों में खेल के मैदान विकसित करने संबंधी तीन विकास कार्यों की लॉन्चिंग करते हुए यह बात कही।

उन्होंने खेलकूद राज्य मंत्री श्री ईश्वरसिंह पटेल की उपस्थिति में इस नवीन पहल के फेसबुक पेज को भी लॉन्च किया।

श्री रूपाणी ने कहा कि राज्य के युवा खेलकूद के क्षेत्र में अपना जौहर दिखाकर गुजरात का नाम रोशन करें साथ ही सरकारी नौकरियों के अवसर के लिए उन्हें उचित मार्गदर्शन भी मिल सके उसके लिए जिलों में खिलाड़ियों के लिए रोजगार मार्गदर्शन केंद्र शुरू किए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गुजरात जिस तरह स्टार्टअप रैंकिंग में, इनोवेशन के क्षेत्र में और विभिन्न यूनिवर्सिटियों की स्थापना के मामले में नंबर वन है, उसी तरह खेलकूद गतिविधियों में भी आने वाले समय में गुजरात को अग्रिम स्थान पर पहुंचाने की हमारी मंशा है।

इस मकसद से युवा शक्ति को खेलकूद के प्रति और भी प्रेरित और प्रशिक्षित कर विश्व की युवा शक्ति की चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार करने को इस सरकार ने ग्रामीण स्तर तक खेलकूद का विकास सुनिश्चित करने के प्रयास के रूप में 500 गांवों में खेल के मैदान विकसित करने की अभिनव पहल की है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने गुजरात खेल प्राधिकरण के मार्फत खेलकूद प्रशिक्षण का विशाल नेटवर्क स्थापित कर प्रत्येक जिले में खेल परिसर के माध्यम से युवा शक्ति को ओलंपिक खेलों तक का गहन प्रशिक्षण देने का इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित किया है।

यही नहीं, खेलकूद गतिविधियों के विकास के लिए 500 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया है। खेल महाकुंभ और कला महाकुंभ के जरिए युवा शक्ति की ललक, कौशल और जोश को निखारने का मंच प्रदान किया है।

मुख्यमंत्री ने कोरोना काल में भी युवाओं और खेल प्रेमियों को घर बैठे प्रशिक्षण उपलब्ध कराने और उनके पसंदीदा खेल में उन्हें निपुण बनाने के लिए ‘मोबाइल टू स्पोर्ट्स’ की पहल को स्वागत योग्य करार दिया।

उन्होंने कोरोना से डरकर बैठे रहने के बजाय ‘जान भी, जहान भी’ के मंत्र को अपनाकर समय के साथ कदमताल करते हुए आगे बढ़ने की युवा शक्ति को प्रेरणा दी।

खेल के मैदान पर पसीना बहाकर शरीर को स्वस्थ, सजग और ताकतवर बनाने की स्वामी विवेकानंद की युवाओं को दी गई सीख का जिक्र करत हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें ग्रामीण स्तर तक ऐसे शक्तिशाली युवाओं को प्रशिक्षण सुविधा मुहैया कराकर गुजरात को खेलकूद के क्षेत्र में दुनिया में अव्वल बनाना है।

उन्होंने कोरोना संक्रमण काल में भी युवा शक्ति का खेलकूद सामर्थ्य बाधित न हो इसकी चिंता करने के लिए विभाग को बधाई दी।

खेलकूद राज्य मंत्री श्री ईश्वरसिंह पटेल ने राज्य के युवाओं में खेलकूद के प्रति घर बैठे जागरूकता पैदा करने के इस नए प्रयोग की सराहना की।

उन्होंने उम्मीद जताई कि मुख्यमंत्री के दूरदर्शी नेतृत्व में गुजरात खेल और कला के क्षेत्र में अनेक प्रतिभाएं दे सका है और आगे भी देता रहेगा।

अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री सी.वी. सोम ने स्वागत भाषण में पूरे कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी दी।

इस अवसर पर संगीत नाटक अकादमी के अध्यक्ष श्री पंकज भट्ट, विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री सी.वी. सोम, गुजरात खेल प्राधिकरण की सचिव कु. अंजनाबेन तथा कई अधिकारी गांधीनगर से जुड़े थे। राज्य के जिला मुख्यालयों पर जिला खेलकूद अधिकारी और प्रसिद्ध खिलाड़ी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सहभागी बने।

(इस खबर को लाइफ केर टीम ने संपादित नहीं किया है।)

दोस्तों, अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी तो पेज नीचे दिए गए बटन लाइक (लाइक), शेयर (शेयर) और फॉलो (करें) करें और इस पोस्ट को अपने दोस्तों, परिवार और अपने साथ काम करने वाले सहकर्मियों के साथ साझा करें, और अधिक स्वास्थ्य से संबंधित न्यूज़ों और लेखों के अपडेट्स पाने के लिए हमारे पेज पर आते हैं।

हमारा ऐप डाउनलोड करें

(This News has not been edited by the Life Care team, it is published directly from the agency feed.)

Legal Disclaimer

LifeCareNews.in provides the information “as is” without warranty of any kind. We do not accept any responsibility or liability for the accuracy, content, images, videos, licenses, completeness, legality, or reliability of the information contained in this article. If you have any complaints or copyright issues related to this article, kindly contact the provider above.

 

Also Read This

Comments